हिंदूज4ट्रंप रैली को रिकॉर्ड संख्या में एक लाख से अधिक भारतीय-अमेरिकियों ने देखा डिजिटल रैली

हिंदूज4ट्रंप रैली को रिकॉर्ड संख्या में एक लाख से अधिक भारतीय-अमेरिकियों ने देखा डिजिटल रैली

विश्व. अमेरिका के राष्ट्रपति पद के नवंबर में होने वाले चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार और मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थन में आयोजित 'हिंदूज4ट्रंप रैली को रिकॉर्ड संख्या में एक लाख से अधिक भारतीय-अमेरिकियों ने देखा। राष्ट्रपति पद के चुनाव में ट्रंप के खिलाफ डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन मैदान में हैं।

'ट्रंप विक्ट्री इंडिया अमेरिकन फाइनेंस कमेटी के उपाध्यक्ष अल मैसन ने रविवार को डिजिटल रैली को संबोधित करते हुए कहा कि पिछले छह महीने का उनका अनुसंधान बताता है कि 1992 से राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार के लिए मतदान करते आ रहे भारतीय-अमेरिकी पहली बार रिपब्लिकन उम्मीदवार का समर्थन कर रहे हैं।

मैसन ने 'अमेरिकन4हिंदू द्वारा आयोजित 'हिंदूज4ट्रंप डिजिटल रैली को संबोधित किया। 'अमेरिकन4हिंदू ने एक बयान में बताया कि विभिन्न सोशल मीडिया मंचों और समूहों पर करीब 30,000 लोगों ने रैली का सीधा प्रसारण देखा और इसके बाद करीब 70,000 लोगों ने इसे ऑनलाइन देखा।''

मैसन ने कहा कि भारतीय-अमेरिकी मतदाताओं के रिपब्लिकन पार्टी की ओर झुकाव का कारण है कि वे ''राष्ट्रपति ट्रंप से प्यार करते हैं।'' उन्होंने कहा, ''जब (पिछले सितंबर में) 'हाउडी मोदी कार्यक्रम हुआ था, तब पूरी दुनिया कश्मीर के बारे में बात कर रही थी... उस समय केवल राष्ट्रपति ट्रंप में ह्यूस्टन में रैली करने की हिम्मत थी और उन्होंने एक बार भी कश्मीर शब्द का जिक्र नहीं किया। उन्होंने भारत के आतंरिक हिस्से (मामलों) में कभी हस्तक्षेप नहीं किया।''

मैसन ने वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीन के बीच हिंसक गतिरोध का स्पष्ट रूप से जिक्र करते हुए कहा कि दूसरा कारण यह है कि ट्रंप चीन के खिलाफ और भारत के समर्थन में खड़े हुए। इस दौरान 'अमेरिकन4हिंदू ने चुनाव में राष्ट्रपति ट्रंप का समर्थन करने की घोषणा की।
     
'अमेरिकन4हिंदू के सह-संस्थापक और सह-अध्यक्ष राज भयानी ने कहा, ''हम राष्ट्रपति ट्रंप के समर्थन में अधिक से अधिक भारतीय-अमेरिकियों के मत हासिल करने के लिए तन, मन और धन से काम करेंगे।''