क्रिकेट / मोहम्मद कैफ ने हाल ही विराट कोहली की कप्तानी के कुछ फैसलों पर सवाल उठाए

कैफ ने टीम सिलेक्शन, कॉम्बिनेशन और फ्लॉप हुए खिलाड़ियों को बराबर मौके ना देने को लेकर विराट कोहली पर निशाना साधा है।

क्रिकेट / मोहम्मद कैफ ने हाल ही विराट कोहली की कप्तानी के कुछ फैसलों पर सवाल उठाए

क्रिकेट डेस्क. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने हाल ही विराट कोहली की कप्तानी के कुछ फैसलों पर सवाल उठाए हैं। कैफ ने टीम सिलेक्शन, कॉम्बिनेशन और फ्लॉप हुए खिलाड़ियों को बराबर मौके ना देने को लेकर विराट कोहली पर निशाना साधा है। कैफ का कहना है कि विराट कोहली का अपने खिलाड़ियों पर भरोसा नहीं है। इस दौरान उन्होंने खासकर ऋषभ पंत का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि पंत का सही इस्तेमाल नहीं हो रहा है और इंटरनेशनल क्रिकेट में सही मौका नहीं मिल रहा है।

मोहम्मद कैफ ने हेलो एप के साथ एक लाइव सेशन में विराट कोहली की कप्तानी और फैसलों को लेकर बात की की। 2017 में महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी छोड़ने के बाद विराट कोहली ने तीनों फॉर्मैट में कमान संभाली। धोनी की कप्तानी सफलता के बाद विराट कोहली पर लोगों की नजरें टिकी थीं, लेकिन उनकी बैटिंग की करह कप्तानी उतनी शानदार नहीं रही है। विराट कोहली 
नियमित रूप से प्लेइंग इलेवन को बदलने की आदत की वजह से आलोचना का शिकार होते रहे हैं। उनकी कप्तानी में भारत को दो बड़े आईसीसी इवेंट में नॉकआउट दौर पार करने के बाद हार का सामना करना पड़ा है। 

ज्यादा एक्सपेरिमेंट को लेकर विराट कोहली की आलोचना
ऐसे में मोहम्मद कैफ ने जरूरत से ज्यादा एक्सपेरिमेंट करने को लेकर विराट कोहली की आलोचना की है। उन्होंने कहा, ''कोहली टीम चयन के साथ कई प्रयोग कर रहे हैं। उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए। कोहली ने कई संयोजनों की कोशिश की और यहां तक ​​कि चयनित खिलाड़ियों ने भी पिछले विश्व कप के दौरान इतना प्रदर्शन नहीं किया। कोहली को अपनी टीम के चयन पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और उनका समर्थन करना चाहिए। यदि किसी भी खिलाड़ी ने कुछ मैचों के लिए अपना फॉर्म खो दिया है, तब भी उसे उसका समर्थन करना चाहिए। कोहली को खिलाड़ी बनाने चाहिए। तभी वह एक अच्छी टीम बना सकता है।''

वर्ल्ड कप 2019 में बिना नंबर 4 के उतरी टीम इंडिया
2019 के वर्ल्ड कप में विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम बिना नंबर 4 फिक्स हुए उतर गई थी। लंबे समय नंबर चार के दावेदार माने जा रहे अंबाती रायडू को वर्ल्ड कप टीम में शामिल नहीं किया गया। शिखर धवन की चोट के बाद टीम मैनेजमेंट ने मयंक अग्रवाल और ऋषभ पंत को चुना। टीम के प्रबंधन ने ऋषभ पंत और मयंक अग्रवाल की पसंद के रूप में शिखर धवन के चोटिल होने की वजह से उनके समावेश को बढ़ावा नहीं दिया।न भारत ने टूर्नामेंट के शुरुआती चरण के दौरान एक अनुभवहीन बल्लेबाज विजय शंकर को मौका दिया ।

ऋषभ पंत के लिए टीम में जगह की अब भी तलाश
फिलहाल भारतीय टीम में नंबर 4 के स्लॉट के लिए श्रेयस अपनी पकड़ मजबूत कर चुके हैं। हालांकि, टीम इंडिया अब भी तीनों फॉर्मैट में ऋषभ पंत की पोजिशन तलाश कर रही है। विकेटकीपर के मुद्दे पर बात करते हुए कैफ ने कहा, ''लिमिटेड ओवर के क्रिकेट में केएल राहुल एक अच्छा ऑप्शन हो सकते हैं, लेकिन वह नियमित नहीं हैं।'' उन्होंने कहा कि अगर आप ऋषभ पंत को महेंद्र सिंह धोनी का उत्तराधिकारी मान रहे हैं तो उन्हें पूरा सपोर्ट कीजिए। 


ऋषभ पंत को वाटर ब्वॉय नहीं होना चाहिए
कैफ ने कहा, ''आप विकेटकीपिंग रोल के लिए भी कई खिलाड़ियों की अदला-बदली कर रहे हैं। भारत को एक नियमित स्पेशलिस्ट विकेटकीपर की जरूरत है। केएल राहुल विकेटकीपिंग बैकअप हो सकते हैं, लेकिन मुझे लगता है वह नियमित नहीं बन सकते। अगर आप धोनी की जगह ऋषभ पंत को सपोर्ट करना चाहते हैं तो विराट को उनका साथ देना होगा। उन्हें टीम के लिए वाटर ब्वॉय नहीं होना चाहिए।''