जीतन राम मांझी 23 को जाएंगे दिल्ली, पढ़े पूरी रिपोर्ट

जीतन राम मांझी 23 को जाएंगे दिल्ली, पढ़े पूरी रिपोर्ट
जीतन राम मांझी

बिहार. महागठबंधन में समन्वय समिति को लेकर शामिल दलों की राय अब 26 जून को ही सामने आ सकती है। समन्वय समिति की मांग करने वाले दलों के नेता अभी दिल्ली में हैं। जीतन राम मांझी 23 जून को दिल्ली जाएंगे। वहां उनकी सहयोगी दलों और कांग्रेस के शीर्ष नेताओं से बात होगी। उसके बाद ही तस्वीर साफ होगी।

हम महासचिव संतोष मांझी ने रविवार की शाम रालोसपा और वीआईपी पार्टी के अलग स्टैंड लेने की खबरों को आधारहीन करार दिया है। कहा है कि अभी ऐसा कुछ नहीं हुआ है। 25 जून तक समन्वय समिति नहीं बनने के बाद ही ' हम' अपना स्टैंड लेगा। लेकिन साथी दलों से विमर्श जारी रहेगा। दूसरी ओर प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि कोऑर्डिनेशन कमेटी की मांग को लेकर उनकी पार्टी कायम है। अगर ऐसा नहीं होता है तो राजनीति में अन्य विकल्प भी खुले हैं। 

उधर, भाकपा के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह ने कहा कि महागठबंधन में समन्वय समिति बननी चाहिए लेकिन हम लोग किसी तीसरे मोर्चे के पक्ष में नहीं हैं। सभी वामदलों का की राय है कि एक सशक्त मोर्चा रहे इसमें सारे लोकतांत्रिक, सेक्यूलर दल रहें। जिससे हम एनडीए को परास्त कर सकें।