पटना / शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी के आशीर्वाद प्राप्त सरायरंजन के थानाध्यक्ष के सरंक्षण में बिक रहा है अवैध शराब - राठौर

श्री राठौर ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि मुख्यमंत्री सरायरंजन थाना क्षेत्र स्थित उनके पैतृक गांव हरसिंहपुर कोठी में उनके घर आ चुके है। संवाददाता स्ममेलन में राहुल कुमार, पी के सौरभ,चंद्रशेखर प्रसाद, संजय कुमार सिंह व गौरी शंकर भी उपस्थित थे।

पटना / शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी के आशीर्वाद प्राप्त सरायरंजन के थानाध्यक्ष के सरंक्षण में बिक रहा है अवैध शराब - राठौर
भारतीय अपराध विरोधी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष, धनवंत सिंह राठौर

पटना. अखिल भारतीय अपराध विरोधी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनवंत सिंह राठौर ने मुख्यमंत्री नितीश कुमार को पत्र लिखकर पिछ्ले कई सालो से शराब के अवैध धंधे में शामिल समस्तीपुर जिले में सरायरंजन थाना के थानाध्यक्ष  संजीव कुमार चौधरी को हटा कर स्वच्छ छवि के अधिकारी को पदस्थापित करने का आग्रह किया है।थानाध्यक्ष पद पर संजीव कुमार चौधरी पिछले चार साल बने है ,पूरे क्षेत्र को अवैध शराब का गढ़ बना कर रखा है।राज्य के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष और वर्तमान में शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी के संरक्षण रहने के कारण कोई करवाई नही होती है 


श्री राठौर आज कंकरबाग स्थित मोर्चा के प्रधान कार्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व विधानसभाध्यक्ष व वर्तमान में बिहार सरकार के मंत्री विजय कुमार चौधरी के आशीर्वाद प्राप्त  संजीव कुमार चौधरी  पिछले चार साल से समस्तीपुर जिले के सरायरंजन थाना में पदस्थापित है। सरायरंजन थाना के थानाध्यक्ष संजीव कुमार चौधरी खुले आम अपने पूरे क्षेत्र में अवैध शराव की विक्री करने वालो के संरक्षक बन कर जहां अवैध कमाई कर रहे हैं वही युवाओं को बरवाद कर रहे है। सरायरंजन थाना क्षेत्र का शायद ही कोई गांव बचा हो जहां थाने की मिलीभगत से अवैध शराव की विक्री न हो रही हो । थाना प्रभारी संजीव कुमार चौधरी खुले आम रकम लेकर अपने क्षेत्र में शराब की  विक्री करवा रहे है।


श्री राठौर ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में कहा है कि मुख्यमंत्री सरायरंजन थाना क्षेत्र स्थित उनके पैतृक गांव हरसिंहपुर कोठी में उनके घर आ चुके है। साथ ही उनके  घर में खाना भी खा चुके है। जिस समय वे गांव आए थे उस समय शरावबंदी नही लागू थी , लेकिन उस वक्त कही भी शराब अवैध रूप से नही बिकता था। श्री राठौर ने अपने पत्र में मुख्यमंत्री से आग्रह किया है  शराबबंदी का सही तरीका देखना चाहते हैं तो एक बार पुनः मेरे गांव आए जहां अब कई जगहों पर खुलेआम शराब स्थानीय थाना के सरंक्षण में बिकती मिलेगी।सरायरंजन थाना प्रभारी  संजीव कुमार चौधरी  पिछ्ले चार सालों से सरायरंजन थाना में ही किस कारण से पदस्थापित है, यह जवाब आज  सरायरंजन  की जनता मु्ख्यमंत्री जी से जानना चाहती है।


श्री राठौर ने अपने पत्र में सीधा आरोप राज्य केशिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी जी के ऊपर लगाते हुए कहा कि उनका  सरंक्षण रहने  के कारण ही  श्री संजीव कुमार चौधरी को सरायरंजन थाना में चार साल बीतने के बाबजूद  थानाध्यक्ष पद से नही हटाया जा रहा है ।श्री राठौर ने मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में अवैध शराब  विकवाने वाले सरायरंजन के थानाध्यक्ष संजीव कुमार चौधरी और  राज्य के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी जी के संबंधों व  अबेध शराब के कारोवारियों को दिए जा रहे संरक्षण  की जांच कराकर उचित कारवाई करने का आग्रह किया है। संवाददाता स्ममेलन में राहुल कुमार, पी के सौरभ,चंद्रशेखर प्रसाद, संजय कुमार सिंह व गौरी शंकर भी उपस्थित थे।