बिहार में IAS अधिकारी हुए कोरोना पॉजिटिव, बिहार में कोरोना मरीजो की संख्या 1000 से अधिक

बिहार में IAS अधिकारी हुए कोरोना पॉजिटिव, बिहार में कोरोना मरीजो की संख्या 1000 से अधिक

बिहार. बिहार में एक युवा आईएएस अधिकारी की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। 2017 बैच का यह आईएएस अधिकारी नालंदा में पदस्थापित हैं। रिपोर्ट आने के बाद उन्हें गुरुवार काे आइसोलेशन सेंटर में भर्ती किया है। उनकी कोई ट्रेवल हिस्ट्री भी नहीं। वह किसी स्थानीय के संपर्क में आने से संक्रमित हुए हैं। उनका सैंपल जांच के लिए आरएमआरआई में भेजा गया था। बिहार में किसी आईएएस अधिकारी के संक्रमित होने का यह पहला मामला है।

अधिकारी के संपर्क में आने वालों को आइसोलेट करके उनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। इससे पहले पटना के एक आईपीएस अधिकारी की कोरोना जांच करवाई गई थी। हालांकि उनकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इधर, गुरुवार काे प्रदेश में 46 नए कोरोना मरीज मिले। इस तरह राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 1000 से अधिक हो गई है।

हालांकि अभी तक कुल 411 मरीज स्वास्थ्य होकर घर गए हैं। 46 नए मरीजों मे पूर्णिया से 8, लखीसराय से 6, खगड़िया से 6, मुजफ्फरपुर, नालंदा और बांका से 3, जहानाबाद से 5, नालंदा से 3, शेखपुरा, रोहतास, वैशाली, सुपौल से 2, भोजपुर, किशनगंज, भागलपुर और नवादा के एक-एक शामिल हैं। लखीसराय से सभी छह मामले अलग-अलग इलाकों से हैं।

दिल्ली में सैंपल दे बिहार भागे भाई-बहन, रिपाेर्ट पाॅजिटिव
सासाराम दिल्ली के सर गंगाराम हॉस्पिटल में सैंपल देने वाले भाई-बहन कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। दोनों सैंपल देने के बाद भागकर शिवसागर चले आए थे। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद दोनों की खोज हुई। उसके बाद वे सदर अस्पताल सासाराम पहुंचे। दोनों को भर्ती किया गया है। इधर सासाराम में गुरुवार को दो और कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें एक फेरी लगाकर सब्जी बेचने वाला शामिल है।