किशनगंज के दिघलबैंक और तैयबपुर में बाढ़ का हुआ दस्तक, जाने पूरी खबरें

किशनगंज के दिघलबैंक और तैयबपुर में बाढ़ का हुआ दस्तक, जाने पूरी खबरें

किशनगंज. किशनगंज में नेपाल के रास्ते से दिघलबैंक एरिया में बाढ़ ने दस्तक दे दी है। रविवार को अहले सुबह कनकई नदी का पानी फैलने से इलाके के पश्चिमी हिस्से में हाहाकार मचना शुरू हो गया है। कनकई नदी में ऊफान से दिघलबैंक ब्लॉक के सुदूरवर्ती क्षेत्र सिंघीमारी और लोहागड़ा पंचायत में सबसे पहले बाढ़ का पानी घुसा है। पंचायत समिति सदस्य नजरुल इस्लाम के मुताबिक पलसा, राहीमोनी, दरगाह कंचनबाड़ी, सिमल डांगी जैसे दर्जनभर गांव देखते ही देखते पानी से घिर चुका है। जिसकी वजह से लोग घरों से निकल कर सुरक्षित ठिकानों की ओर पलायन करने लगे हैं। स्कूल टीचर नैयर आलम के मुताबिक बॉर्डर क्रॉस कर इस हिस्से में पानी भरने से टेढ़ागाछ, बहादुरगंज, कोचाधामन, बैसा, अमौर और बायसी जैसे ब्लॉक में हालात बिगड़ सकते हैं।

उधर आधी रात को पोठिया के तैयबपुर इलाके में महानन्दा का पानी फैलने से कई गांव जलमग्न हो चुके हैं। बाढ़ के हालात पर नजर रखने वाले स्थानीय पत्रकार रामबाबू का कहना है कि हालात 2017 जैसे बन रहे हैं। इसलिए लोगों को जल्द से जल्द ऊंचे इलाकों में प्रस्थान करने की जरूरत है। उन्होंने जिला प्रशासन से ऐसे इलाकों में नाव और रसद जल्दी भेजने की गुजारिश की है। क्योंकि इलाके में बारिश का सिलसिला जारी है। आगे चलकर रास्ते नजर नहीं आएंगे तब राहत और बचाव कार्य मुश्किल होगा।

पलसा इलाके में हालात पर नजर रखने वाले मनोज राजवंशी का कहना है 2017 की भीषण बाढ़ में जिन गांव में बाढ़ का पानी नहीं घुसा था अब वो इलाके भी डूबते नजर आ रहे हैं। उनके मुताबिक इलाके में रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने की सख्त जरूरत है।