पटना के 30 बड़े प्राइवेट अस्पतालों में होगा कोरोना का इलाज, इलाज़ के लिए देना होगा चार्ज

पटना के 30 बड़े प्राइवेट अस्पतालों में होगा कोरोना का इलाज, इलाज़ के लिए देना होगा चार्ज

पटना. बिहार में बेकाबू हो चुके कोरोना पर रोकथाम के लिए अब प्राइवेट अस्पताल में आगे आने लगे हैं। पटना के अब 30 बड़े अस्पतालों में कोरोना का इलाज किया जाएगा। इन अस्पतालो से कोरोना संक्रमित मरीजों को सरकारी अस्पतालों में रेफर नहीं होंगे।

पटना के डीएम के पहल के बाद इन प्राइवेट अस्पतालों के प्रबंधकों ने आवेदन दिया है। हालांकि इसके लिए इन प्राइवेट अस्पतालों को अलग से आइसोलेशन वार्ड बनाना होगा। खबर के मुताबिक अगले 2 से 3 दिनों में पटना के 30 बड़े प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज शुरू हो जाएगा। डीएम कुमार रवि ने पटना शहर के सभी प्रमुख अस्पतालों के प्रबंधकों के साथ बैठक कर आइसोलेशन वार्ड बनाने को कहा है।

पटना के प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज मुफ्त में नहीं होगा। इसके लिए उन्हें रकम चुकानी होगी। लेकिन प्रशासन ने इसको लेकर किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होने का आश्वासन दिया है। हालांकि यह अभी तय नहीं हो पाया है कि कोरोना के इलाज में कितना खर्च होगा। इसको लेकर जिला प्रशासन अस्पताल प्रबंधकों से बातचीत कर रहा है। ताकि न्यूनतम खर्च पर कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज हो सके।