पटना में कोरोना का दशहत दो डॉक्टर समेत, 13 लोगों की मौत

पटना में कोरोना का दशहत दो डॉक्टर समेत, 13 लोगों की  मौत

पटना. बिहार में कोरोना से संक्रमण के साथ अब पटना में मौत का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को कोरोना ने एम्स में भर्ती इलाजरत दो और डॉक्टरों की जान ले ली है। इसके अलावा एम्स में एक दिन में अबतक सबसे ज्यादा 13 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत से हड़कंप मचा हुआ है। एम्स में शुक्रवार को 25 नये मरीजों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी है।

वहीं 23 मरीजों ने कोरोना को हरा दिया है। एम्स के कोरोना नोडल आफिसर डॉ संजीव कुमार ने बताया कि सुपौल जिले के हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ महेंद्र चौधरी की इलाज के दौरान पटना एम्स में मौत कोरोना से हो गयी है। डॉक्टर महेंद्र चौधरी अरवल में सरकारी अस्पताल में पदस्थापित थे। वहीं पीएमसीएच के रेडियोथेरेपी विभाग के पूर्व विभागाध्यक्ष डॉ मिथिलेश प्रसाद सिंह की मौत भी कोरोना से हो गयी है।

पटना के राजेन्द्र नगर टेलीफोन एक्सचेंज के पीछे इलाके में रहने वाले 70 वर्षीय डा मिथलेश कुमार पीएमसीएच से सेवानिवृत्त हुए थे जिनकी मौत हो गई। साथ ही एम्स में शुक्रवार को ही पीएमसीएच के डॉ रंजीत कुमार की कोरोना संक्रमित पत्नी की भी मौत हो गयी है।

एम्स कोरोना नोडल आफिसर के मुताबिक पटना एम्स में रोहतास के 32 वर्षीय संतोष कुमार दुबे, पटना के पत्थर की मस्जिद सुलतानगंज की 55 वर्षीय लता राजगरिया, मुजफरपुर के 59 वर्षीय नीरज कुमार वर्मा, नालंदा के 57 वर्षीय राजेश रंजन, नालंदा के 52 वर्षीय सुनिल कुमार, वैशाली की 58 वर्षीय मंजु देवी, भोजपुर के 61 वर्षीय अशोक कुमार, पटना की 81 वर्षीय रामपरी सिंह, मनेर के 44 वर्षीय उमेश कुमार, मुजफरपुर के 63 वर्षीय ओम प्रकाश केशरी, नालंदा के 55 वर्षीय मिथिलेश प्रसाद की कोरोना से मौत हो गयी है।